blog_img
 

जेवर एयरपोर्ट में एक दर्जन कंपनियों ने दिखाई रुचि

Posted on Jun 06 2019

ग्रेटर नोएडा : जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए एक सप्ताह में चार निविदा प्रपत्रों की बिक्री हो चुकी है। एयरपोर्ट निर्माण में रुचि दिखाते हुए बड़ी संख्या में कंपनियों ने नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड (निआल) से संपर्क किया है। उम्मीद जताई जा रही है कि कंपनियां जल्द ही निविदा में भागीदारी करेंगी। हालांकि अभी तक रुचि दिखाने वाली कंपनियों में अधिकतर देश की ही हैं। जो विभिन्न एयरपोर्ट का संचालन कर रही हैं। नवंबर में एयरपोर्ट के लिए कंपनी के चयन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

निविदा प्रपत्र खरीदने की तिथि को 15 दिन के लिए बढ़ा दिया। अब निविदा प्रपत्र जमा करने के दिन तक इसे खरीदा जा सकेगा। निआल ने तीस मई को एयरपोर्ट के लिए निविदा जारी की थी। एक सप्ताह के दौरान ही करीब एक दर्जन कंपनियों ने इस प्रोजेक्ट के बारे में जानकारी ली है। ताकि वह निविदा प्रक्रिया व उसमें शामिल होने का फैसला ले सकें। चार कंपनियों ने निविदा प्रपत्र भी खरीद लिया है। हालांकि निआल ने अभी इन कंपनियों के नाम उजागर नहीं किए हैं। वैश्विक निविदा में विदेशी कंपनियों को आकर्षित करने के लिए निआल ने विदेशी समाचार पत्रों में विज्ञापन भी दिए हैं। एयरपोर्ट के निर्माण एवं संचालन के लिए कंपनी का चयन सिंगल स्टेज बिड प्रोसेस के तहत होना है। निविदा प्रक्रिया नवंबर अंत तक पूरी हो जाएगी। तकनीकी बिड में सफल छह शीर्ष कंपनियों की फाइनेंशियल बिड खोली जाएगी। इसमें से अंतिम रूप से कंपनी का चयन होगा। एयरपोर्ट के पहले चरण के निर्माण पर पांच हजार करोड़ की लागत का अनुमान है। निविदा में शामिल होने की इच्छुक कंपनियों की आपत्ति के बाद निआल ने इसमें कुछ संशोधन भी किया है। मौजूदा प्रक्रिया के तहत निविदा की तकनीकी एवं वित्तीय शर्तो की जानकारी लेने के लिए कंपनी को प्रपत्र डाउनलोड करने से पहले दो लाख 36 हजार रुपये का भुगतान करना पड़ रहा था। इसके बाद निआल की ओर से उन्हें पासवर्ड देने के बाद ही वह प्रपत्र डाउनलोड कर पा रहे थे। जो कंपनियां तकनीकी व वित्तीय शर्त पर खरी नहीं उतर रही थीं, उन्हें नुकसान हो रहा था। कंपनियों की आपत्ति के बाद निआल ने तकनीकी व वित्तीय शर्त संबंधी प्रपत्र डाउनलोड करने में पासवर्ड की बाध्यता समाप्त कर दी है। निविदा प्रपत्र डाउनलोड करने के लिए ही पासवर्ड की जरूरत होगी। इसके लिए पहले निआल के खाते में दस लाख रुपये प्रोसेस शुल्क व जीएसटी जमा कराना होगा।

एयरपोर्ट की निविदा जारी होने के बाद कई कंपनियों ने प्रोजेक्ट के लिए रुचि दिखाई है। एयरपोर्ट के लिए कंपनी चयन की प्रक्रिया समय से पूरी कर ली जाएगी। -शैलेंद्र भाटिया, ओएसडी निआल 

Courtesy:- https://epaper.jagran.com/epaper/07-jun-2019-241-noida-edition-noida-page-23.html

Copyright © 2019 Jewar Airport Projects

Jewar Airport Projects

Contact Us