blog_img
 

व्यस्त समय में जेवर एयरपोर्ट से 24 जहाज भर सकेंगे उड़ान व होंगे लैंड

Posted on Jun 11 2019

ग्रेटर नोएडा : जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर व्यस्ततम समय में प्रति घंटा 24 हवाई जहाज रनवे से उड़ान भरेंगे और उतरेंगे। वर्ष 2044 तक यह आंकड़ा 85 हवाई जहाज तक पहुंच जाएगा। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड (निआल) द्वारा जारी एयरपोर्ट की बिड में यह अनुमान पेश किया गया है। एयरपोर्ट से हवाई सेवाओं का वर्ष 2022 में संचालन शुरू होने पर यात्रियों की संख्या एक करोड़ बीस लाख के लगभग होने का अनुमान भी लगाया गया है। जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण एवं संचालन के लिए तीस मई को बिड जारी हो चुकी है। नवंबर तक कंपनी का चयन होने की संभावना है। चयनित कंपनी के साथ कंसेशन एग्रीमेंट जनवरी 2020 तक हो जाएगा। एयरपोर्ट का कार्य चार चरण में पूरा किया जाएगा। पहला चरण वर्ष 2022 तक पूरा होने के साथ एयरपोर्ट से हवाई सेवाओं का संचालन शुरू हो जाएगा। जबकि अंतिम चरण का कार्य वर्ष 2039 तक पूरा होगा और वर्ष 2040 में संचालन शुरू हो जाएगा। एयरपोर्ट पर हवाई सेवाओं का संचालन शुरू होने पर व्यस्ततम समय में प्रति घंटे 24 हवाई जहाज उड़ान भरेंगे और उतरेंगे। यात्रियों की संख्या सालाना करीब एक करोड़ बीस लाख होगी। वित्त वर्ष 2034 तक यात्रियों की सालाना संख्या तीन करोड़ तक पहुंच जाएगी। वर्ष 2044 तक यात्रियों की संख्या सालाना सात करोड़ होगी। इसके साथ ही एयरपोर्ट से व्यस्त समय में प्रति घंटा उड़ान भरने एवं उतरने वाले हवाई जहाज की संख्या 85 के लगभग होगी। सात बिड (निविदा) प्रपत्र अभी तक खरीदे जा चुके हैं। स्पेन की कंपनी ने भी एयरपोर्ट परियोजना में रुचि दिखाई है।

एयरपोर्ट के निर्माण एवं संचालन के लिए जारी बिड के अभी तक सात प्रपत्र विक्रय हुए हैं। विदेशी कंपनियां भी इन परियोजनाओं में रुचि दिखा रही हैं। कंपनी चयन की प्रक्रिया निर्धारित मानक पर समय से पूरी कर ली जाएगी। -डॉ. अरुणवीर सिंह, सीईओ, निआल

Courtesy:- https://epaper.jagran.com/epaper/11-jun-2019-241-noida-edition-noida-page-21.html#

Copyright © 2019 Jewar Airport Projects

Jewar Airport Projects

Contact Us