blog_img
 

जेवर एयरपोर्ट तक दौड़ेंगी मेट्रो और रैपिड ट्रेन

Posted on Apr 08 2018

जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा: जेवर हवाई अड्डे को बेहतर कनेक्टिविटी देने के लिए मेट्रो व रैपिड ट्रेन से जोड़ा जाएगा। हवाई अड्डे को मेट्रो के जरिये आइजीआइ व नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से जोड़ा जाएगा। दिल्ली-मेरठ के बीच चलने वाली रैपिड ट्रेन से हवाई अड्डे को कनेक्टिविटी दी जाएगी। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन डीएमआरसी व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र परिवहन कॉरपोरेशन एनसीआरटीसी के अधिकारियों के साथ शुक्रवार को यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने इसकी फिजिबिलिटी रिपोर्ट मांगी है।

जेवर हवाईअड्डे को दिल्ली एनसीआर से बेहतर कनेक्टिविटी देने के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार हो रहा है। हवाईअड्डे के लिए सबसे अधिक यात्री इसी क्षेत्र से मिलेंगे। यमुना प्राधिकरण की जेवर हवाईअड्डे के लिए डेडीकेटेड ट्रांसपोर्ट देने की योजना है। इसके तहत मेट्रो व रैपिड ट्रेन से हवाईअड्डे को जोड़ने का विचार है।1नोएडा से ग्रेटर नोएडा के बीच मेट्रो का संचालन इसी साल शुरू होने जा रहा है। परीचौक से यमुना प्राधिकरण के सेक्टर बीस तक मेट्रो संचालन की योजना है। जेवर हवाईअड्डे को कनेक्टिविटी देने के लिए मेट्रो को आगे बढ़ाने की योजना है।

जेवर हवाईअड्डे को जोड़ने वाली मेट्रो नॉन स्टाप होगी। शुक्रवार को डीएमआरसी अधिकारियों के साथ हुई बैठक में हवाईअड्डे के लिए सीधे मेट्रो के साथ सेक्टरों को मेट्रो से जोड़ने पर भी विचार हुआ। मेट्रो स्टेशन पर हवाईअड्डे के लिए चलने वाली मेट्रो के लिए अलग ट्रैक होगा। ताकि ट्रेन को बीच में रुकने की जरूरत न पड़े। वहीं सेक्टरों को जोड़ने के लिए मेट्रो स्टेशन पर रुक-रुक कर आगे बढ़ेगी। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे के समानांतर मेट्रो लाइन के जरिये जेवर हवाईअड्डे को आइजीआइ से भी जोड़ने की योजना है। डीएमआरसी को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से जेवर हवाईअड्डे तक सीधे मेट्रो के लिए भी फिजिबिलिटी तैयार कर तीन माह में देने के लिए कहा गया है।  वहीं, दिल्ली मेरठ के बीच रैपिड ट्रेन से जेवर हवाईअड्डे को सराय काले खा से जोड़ा जा सकता है। दिल्ली से रैपिड ट्रेन के लिए कनेक्टिविटी देने में आने वाली अड़चन को देखते हुए इसे न्यू अशोक नगर से जोड़ा जा सकता है। दिल्ली-मेरठ रैपिड ट्रेन गौतमबुद्ध नगर के सबसे करीब न्यू अशोक नगर से गुजरेगी। जेवर हवाईअड्डे तक रैपिड ट्रेन ले जाने के लिए न्यू अशोक नगर से नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस वे के समानांतर जेवर तक ट्रैक बिछाया जा सकता है। एनसीआरटीसी को चार माह में रिपोर्ट देनी होगी।

For More Details Visit : http://epaper.jagran.com/epaper/07-apr-2018-4-Delhi-City-Page-1.html

Copyright © 2019 Jewar Airport Projects

Jewar Airport Projects

Contact Us