blog_img
 

अधिकतम राजस्व देने वाली कंपनी को मिलेगा एयरपोर्ट

Posted on Nov 01 2019

ग्रेटर नोएडा: जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए कंपनी चयन का आधार प्रति यात्री मिलने वाला राजस्व है। जो कंपनी प्रति यात्री अधिकतम राजस्व की बोली लगाएगी, जेवर एयरपोर्ट उसी कंपनी को मिलेगा। फाइनेंशियल बिड की मुख्य शर्त यही है। देश में बन रहे ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट में इस शर्त पर कंपनी चयन होने वाला जेवर एयरपोर्ट पहला होगा।

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की तकनीकी बिड खुलने के बाद परियोजना निगरानी एवं क्रियान्वयन समिति (पीएमआइसी) की बैठक होगी। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट कंपनी लिमिटेड (नियाल) पीएमआइसी को बिड में शामिल कंपनियों की स्थिति से अवगत कराएगी। बिड में शामिल कंपनियों को दस्तावेजी कमियों को पूरा करने का मौका देने पर विचार हो सकता है। फाइनेंशियल बिड खुलने के बाद प्रदेश कैबिनेट की बैठक में इस पर मुहर लगवाई जाएगी। जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लिए चार कंपनियों ने बिड डाली है। छह नवंबर को तकनीकी बिड खोली जाएगी। इसमें कंपनियों के कार्य अनुभव एवं औसत पूंजी का आंकलन किया जाएगा। प्रदेश में बड़ी परियोजनाओं पर फैसला लेने के लिए गठित पीएमआइसी की बैठक में भी बिड में शामिल कंपनियों की जानकारी साझा की जाएगी। नियाल बिड में शामिल कंपनियों को दस्तावेजी कमियों को दूर करने के लिए मौका देने पर विचार कर रही है। लेकिन इस पर अंतिम निर्णय पीएमआइसी की बैठक में होगा। अगर पीएमआइसी इस पर सहमत होती है तो कंपनियां बिड में बची हुई दस्तावेजों की कमियों को पूरा कर सकेंगी। 29 नवंबर को जेवर एयरपोर्ट की फाइनेंशियल बिड खुलेगी। इसमें एयरपोर्ट के निर्माण एवं संचालन के लिए अंतिम रूप से कंपनी का चयन किया जाएगा। फाइनेंशियल बिड में कंपनी के चयन की मुख्य शर्त एयरपोर्ट से प्रति यात्री सरकार को मिलने वाले अधिकतम राजस्व की होगी। जो कंपनी प्रति यात्री अधिक राजस्व सरकार को देगी, उसका चयन होगा। देश में बन रहे ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट में प्रति यात्री मिलने वाले राजस्व के आधार पर कंपनी चयन की शर्त वाला जेवर एयरपोर्ट पहला होगा। इससे प्रदेश सरकार को जेवर एयरपोर्ट से अधिक से अधिक राजस्व मिलेगा। इससे पहले ब्राउन फील्ड एयरपोर्ट पहले से संचालित एयरपोर्ट में इस आधार पर कंपनी का चयन किया जा चुका है। जेवर एयरपोर्ट का निर्माण पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप पीपीपी मॉडल पर होगा। चयनित कंपनी को चालीस साल के लिए जेवर एयरपोर्ट सौंपा जाएगा।

Courtesy:- https://epaper.jagran.com/epaper/01-nov-2019-241-noida-edition-noida-page-17.html#

Copyright © 2019 Jewar Airport Projects

Jewar Airport Projects

Contact Us